चीजें जो बच्चों को नहीं खानी चाहिएं

HEALTH

बच्चों के हानिकारक खाद्य पदार्थ

Unhealthy Foods Items For Children

आज के इस भागते युग में जहां एक और हम एडवांस हो रहे है वही दूसरी तरफ हम अपने health की तरफ बहुत ज्यादा casual हो गए हैं। Consumerism के इस दौर में  हम अपने खान-पान में ऐसी चीजों का सेवन करते है जो हमारे स्वास्थ के लिए अत्यंत हानिकारक है।

खासतौर से बच्चे और युवा अपनी सेहत से ज्यादा priority अपने स्वाद को देते है और उन्हें भिन्न-भिन्न प्रकार के जंक फ़ूड बहुत लुभाते है। ये सब पर्दार्थ स्वाद में धनी होते हैं लेकिन सेहत पर बहुत बुरा असर डालते है। इसलिए यह जरूरी हो जाता है कि as an adult हम ऐसी चीजों के बारे में जानें और इनका सेवन करने से अपने बच्चों और खुद को भी रोकें.

यदि आप चाहें तो इस विषय में किसी विशेषज्ञ से मिल सकते हैं और अपने भोजन से जुड़े सवाल-जवाब कर सकते हैं।

तो आज इस लेख में हम बात करेंगे कुछ ऐसे ही प्रसिद्द खाद्य पर्दार्थो के बारे में जो बच्चे बहुत अधिक पसंद करते हैं, but unfortunately, ये स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक हैं:

1) कोल्ड ड्रिंक्स/ सॉफ्ट ड्रिंक्स

आज के मॉडर्न जमाने में अगर हम मॉडर्न डाइट की बात करते है तो सबसे पहला नाम कोल्ड ड्रिंक्स का आता है। अलग-अलग ब्रांड्स द्वारा अलग-अलग flavours में आने वाली कोल्ड ड्रिंक्स आज की युवा पीढ़ी को बेहद पसंद आती है।

लेकिन यह कोल्ड ड्रिंक या सॉफ्ट ड्रिंक उनकी सेहत के लिए बेहद खतरनाक है। इन कोल्ड ड्रिंक्स के अंदर sugar की मात्रा बहुत ज्यादा होती है जिसकी वजह से शरीर में calories बढ़ जाती है जो child obesity का बहुत बड़ा कारण है.

2) व्हाइट ब्रेड

लोगों को जब भी कुछ हल्का फुल्का खाने का मन करता है तो अधिकतर उनकी पसंद ब्रेड होता है। ब्रेड मैदे  से बनता है जिसके अंदर ग्लूटेन नाम का प्रोटीन मौजूद होता है। वैसे तो हमारी बॉडी ग्लूटेन प्रोटीन को पचा लेती है परन्तु इसके ज्यादा सेवन से सेलिएक बीमारी होने का खतरा रहता है। यही कारण है की एक्सपर्ट्स हमेशा ग्लूटेन फ्री खाना खाने की सलाह देते है।

3) पेस्ट्रीज और केक्स

पेस्ट्रीज और केक्स खाने की वो चीजें है जो बच्चों को बहुत पसंद होते है और वे इन्हे बहुत चाव से खाते हैं। परन्तु केक्स और पेस्ट्रीज सेहत के नजरिये से हमारे शरीर के लिए बहुत हानिकारक होते हैं। इनमे ऐसा कोई भी तत्व नहीं होता जो हमारे शरीर को किसी भी प्रकार से कोई nutrient value दे , बल्कि इनमे जरूरत से अधिक कैलोरीज होती हैं और साथ ही साथ ऐसे इंग्रेडिएंट्स मौजूद होते है जो बहुत unhealthy होते है।

4) प्रोसेस्ड मीट

यदि आप प्रोसेस्ड मीट का सेवन करते है तो तुरंत ही बंद कर दें। प्रोसेस्ड मीट रेगुलर मीट से बहुत अलग होता है और शरीर पर बहुत दुष्प्रभाव डालता है। चूंकि यह पैक्ड स्टेट में मार्केट में मिलता है, इसके अंदर भारी मात्रा में नाइट्रेट पाया जाता है, जो stomach cancer जैसी खतरनाक बीमारी को जन्म दे सकता है।

साथ ही प्रोसेस्ड मीट के अंदर प्रोटीन की मात्रा भी कम होती है और इसके अंदर preservatives और सोडियम डले होने के कारण शरीर को फायदा कम और नुक्सान ज्यादा पहुँचाता है। इसलिए यदि चिकन खाने का मन है तो प्रोसेस्ड मीट की जगह नेचुरल मीट ही खाएं और खिलाएं ।

5) पैक्ड फ्रूट जूस

वैसे तो फलों का जूस हमारे सेहत के लिए बहुत ही लाभदायक माना जाता है। जूस पीने से शरीर में ताकत आती है और शरीर के कीटाणु भी मरते है। परन्तु पैक्ड जूस हमारे शरीर के लिए फायदे से ज्यादा नुक्सान पहुंचाने का काम करते हैं। पैक्ड फ्रूट जूस में नेचुरल फ्रूट्स की मात्रा बहुत कम होती है, बल्कि इनमे इस्तेमाल होता है तो सिर्फ मीठा पानी, रंग और भिन्न-भिन्न प्रकार के फ्लेवर्स।

इस तरह के जूस में मौजूद High Sugar Content मोटापे को जन्म देता है, जिससे अन्य कई बीमारियाँ आती हैं। इनकी जगह आप बच्चों को ताजे फलों का जूस दें, इसमें थोड़ी मेहनत ज़रूर लगेगी पर ये अच्छी सेहत की गारंटी भी देगा।

6) पिज़्ज़ा

पिज़्ज़ा बच्चों का मनपसंद फ़ूड आइटम होता है। कई बार बच्चे खाना खाने की जगह पिज़्ज़ा खा कर ही अपना पेट भर लेते हैं।  वैसे तो पिज़्ज़ा बहुत ही ज्यादा स्वादिष्ट होता है, परन्तु इसके अंदर इस्तेमाल होने वाले इंग्रेडिएंट्स हमारे शरीर के लिए बहुत ही ज्यादा अन्हेल्थी होते है।

पिज़्ज़ा का बेस रिफाइंड आटे की मदद से तैयार किया जाता है, जो शरीर को बहुत नुक्सान पहुंचाता है। इसके अलावा एक पिज़्ज़ा के अंदर कैलोरीज का अमाउंट भी बहुत अधिक होता है। यही सब कारण है की आपको पिज़्ज़ा बहुत लिमिट में खाना चाहिए।

7) पोटैटो चिप्स

बच्चों के बीच अक्सर चिप्स खाना अब आम सी बात हो गयी है। गली-मोहल्लों में खुली दुकानों में आसानी से मिलने वाले चिप्स कई तरह से स्वास्थय के लिए हानिकारक है।  इसका अधिक सेवन करने से मोटापा, high blood pressure और high cholesterol जैसी गंभीर समस्याएँ पैदा हो सकती हैं.

दोस्तों, बच्चों को उनके पसंदीदा फ़ूड आइटम्स से पूरी तरह दूर करना बहुत मुश्किल है और ऐसा करना भी नहीं चाहिए। लेकिन एक जिम्मेदार अभिभावक होने के नाते हमें इस पर ज़रूर रोक लगानी चाहिए कि वे कौन सी चीज कब और कितनी खाते हैं। साथ ही इन हानिकारक खाद्य पदार्थों का सेवन रोकने के साथ-साथ हमें उन्हें tasty healthy food items के विकल्प ज़रूर देने चाहियें ताकि उन्हें स्वाद और सेहत दोनों मिल सके.

धन्यवाद,

दीपशिखा जहाँगीर

 ➡ दीपशिखा जहाँगीर एक अनुभवी लेखिका हैं, जिन्होंने विभिन्न हाई-प्रोफाइल वेबसाइटों पर वर्षों तक गुणवत्ता की सामग्री का योगदान दिया है। उन्होंने विशेष रूप से फैशन, व्यवसाय, उद्यमिता, शिक्षा आदि जैसे क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। उनका व्यावसायिकता, चार साल का अनुभव और विशेषज्ञता उन्हें क्षेत्र में सबसे अधिक मांग वाले सामग्री लेखकों में से एक बनाती है।