अध्यात्म एवं धार्मिक पर्यटन नगरी खजुराहो का विश्व प्रसिद्ध मतंगेश्वर महादेव का मंदिर महाशिवरात्रि पर सजा – JanoDuniya Web TV

TOP NEWS VIDEOS

अध्यात्म एवं धार्मिक पर्यटन नगरी खजुराहो का विश्व प्रसिद्ध मतंगेश्वर महादेव का मंदिर महाशिवरात्रि पर सजा – JanoDuniya Web TV

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान महाशिवरात्रि पर पुराने भोपाल शहर में भवानी चौक सोमवारा के पास बड़वाले महादेव मंदिर पहुंचे। उन्होंने यहां शिवअभिषेक और पूजा-अर्चना की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री अनेक भक्तगण से भी मिले और उन्हें महाशिवरात्रि पर्व की बधाई दी। मुख्यमंत्री ने मंदिर परिसर में जनता से संवाद भी किया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भगवान शिव के रथ को खींचा। वे शिव जी की बारात में भी शामिल हुए। इस अवसर पर उनकी धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह चौहान साथ थीं।

अध्यात्म एवं धार्मिक पर्यटन नगरी खजुराहो का विश्व प्रसिद्ध मतंगेश्वर महादेव का मंदिर महाशिवरात्रि पर सजा -धजा नजर आया विद्युत झालरों और फूलों से सजाया संवारा गया है। वहीं प्रशासन की ओर से मंदिर परिसर में सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए है बृहस्पतिवार को भोर से ही इन मंदिरों में जलाभिषेक करने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी खजुराहो के मतगेश्वर महादेव मंदिर मे हर हर महादेव के जयकारे से शिवालय गूंज उठा खजुराहो के मंदिर वैसे तो दुनिया भर में काम कला के मंदिरों के रूप में प्रसिद्ध हैं। लेकिन मतंगेश्वर शिव मंदिर आस्था का बड़ा केंद्र है। यह एक ऐसा मंदिर है जहां प्राचीनसमय से लगातार पूजा होती चली आ रही है। इस मंदिर में स्तिथ शिवलिंग के बारे में ऐसी मान्यता है कि ये हर साल तिल के बराबर बढ़ता है। यही नहीं कहा तो यहां तक जाता है कि चंदेल राजाओं द्वारा 9वीं सदी में बनाए गए इस मंदिर में स्थापित शिवलिंग के नीचे एक ऐसी मणि है जो हर मनोकामना पूरी करती है।

महाशिवरात्रि पर्व दतिया जिले में धार्मिक उल्लास के साथ मनाया गया। सुबह से श्रद्धालुओं का शिव मंदिरों पर तांता लगा रहा। विश्व प्रसिद्ध शक्तिपीठ श्री पीताम्बरा मन्दिर पर स्थित प्राचीन वनखण्डेश्वर महादेव के जलाभिषेक के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु लंबी कतारों में लगे रहे। बिजली घर में स्थित मनकामेश्वर महादेव का वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ विधि विधान से अभिषेक मप्र विद्युतीकरण कंपनी दतिया के उप महाप्रबंधक एपीएस भदौरिया ने सपरिवार किया। उन्होंने जिलेवासियों की खुशहाली के लिए महादेव से प्रार्थना की। वहीं सेंवढ़ा स्थित प्रसिद्ध सनकुआँ धाम पर सिंध नदी में हजारों श्रद्धालुओं ने स्नान किया। यहां से कांवरे भरकर कांवरियां विभिन्न स्थानों के लिए रवाना हुए। दतिया के गुप्तेश्वर महादेव, धूमेश्वर महादेव, हजारेश्वर, भेरारेश्वर महादेव सहित अन्य सभी शिव मंदिरों पर श्रद्धालुओं की भीड़ जुटी रही। दतिया शहर में शिव भक्तों ने शिव बारात भी निकाली।

दमोह स्थित प्रसिद्ध नोहलेश्वर मंदिर यह शिव मंदिर नोहटा गांव से 01 कि.मी. की दूरी पर स्थित है। शिव को यहाँ महादेव एवं नोहलेश्वर के नाम से जाना जाता है। इसका निर्माण 950-1000 ई.वी के आस पास हुआ था। कुछ लोग के अनुसार इस मंदिर के निर्माण का काम चालुक्य वंष के कलचुरी राजा अवनी वर्मा की रानी ने कराया था। 10 वीं शताब्दी के कलचुरी साम्राज्य की स्थापत्य कला का एक बेजोड़ एंव महत्तवपूर्ण नमूना है नोहलेश्वर मंदिर। यह एक ऊचें चबूतरे पर बना है। इसमें पंचरथ, गर्भगृह, अन्तराल, मण्डप एवं मुख मण्डप आदि भाग है।इस मंदिर स्थापित्य कला कृतियों (मूर्तियों)मन्दिर की सुंदर वनावट निहारने जहाँ वर्ष भर पर्यटकों की भीड़ लगी रहती पर्व विशेष महाशिवरात्रि को नोहलेश्वर महादेव के दर्शनों के लिए नोहटा सहित आसपास के श्राद्धलु हजारों की संख्या दर्शनो के लिए पहुंचते है।वही बुंदेलखंड के प्रसिद्ध तीर्थ क्षेत्र जागेश्वरनाथ महादेव बांदकपुर के पट खुलते ही पहुंची दर्शनार्थियों कांवड़ियों की भारी भीड़ ने भगवान शिव का अभिषेक पूजा किया।

दमोह जिले से 35 किलोमीटर की दूरी पर इमालिया खर्रा घाट रोड जिले की सवसे बड़ी व्यारमा नदी के तट पर बहुत ही प्राचीन नागेश्वर शिव मंदिर है जिसमें अलौकिक दिव्य शिवलिंग विराजमान है।मंदिर की दीवारों पर अनेको शिल्पकला की अद्भुत प्रतिमाएं अंकित जो शिव भक्ति की प्रतीक है जिसमें माता पार्वती सती दिव्य शिव लिंग की पूजन करती हुई तो शिवगणों मैं नागेश्वर भगवान व शिवगणों की प्रतिमाएं विराजमान है स्थानीय लोग बताते है यह मन्दिर सैकड़ो वर्ष अतिप्राचीन शिव मन्दिर है जिसके उपर 250 वर्ष पहले मढ़ा का जीणोद्धार करवाया गया था लेकिन यहां मढ़ा का निर्माण तीसरी वार 1999 मैं किया गया इसके पहले 1961 मैं माता पार्वती श्री गणेश संकटमोचन प्रतिमाएं की स्थापना करवाई गई थी लेकिन शिवलिंग स्वयंभू बताया जाता हैखर्राघाट घाट नागेश्वर मन्दिर में रुद्र महायज्ञ शिव कथा आदर्श रामलीला मंडली का मंचन संत समागम हरिकथा जैसे भव्य धार्मिक आयोजन की भव्य कलस यात्रा निकाली जा रही है महाशिवरात्रि के पावन पर्व से शिव धांम खर्राघाट का माहौल शिव की भक्ति मय हो चला है |

भोपाल स्थित मां वैष्णो धाम आदर्श मां दुर्गा मंदिर पर शिवरात्रि के महा पर्व पर भगवान पशुपतिनाथ का 21 लीटर दूध से रुद्राभिषेक किया गया कई प्रकार के फलों के रस से भगवान को स्नान कराया गया दूध दही घी शहद शक्कर पंचामृत इत्यादि वस्तुओं से भगवान का रुद्राभिषेक विधि विधान से हुआ मां वैष्णो धाम आदर्श नो दुर्गा मंदिर के व्यवस्थापक चंद्रशेखर तिवारी ने बताया की मंदिर पर पिछले 6 वर्षों से निरंतर रुद्राभिषेक प्रतिदिन किया जा रहा है यहां भगवान शिव शक्ति समस्त मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं शिवरात्रि पर रुद्राभिषेक प्रातः 6:00 बजे से प्रारंभ हुआ है |

Jano Duniya – The most credible source of Hindi News & Infotainment Channel (Khabar Bhi, Ashar Bhi – the most credible & diversified source of journalistic ethics & excellence) with focus on Indian & International News, primarily on Politics, World & Business, Lifestyle & Entertainment, Sports & Gadgets, Astrology & Traditional News, a must-watch on the website, https://janoduniya.tv, YouTube – https://bit.ly/3euEkdo, Facebook – https://bit.ly/3l6EgSj, LinkedIn – https://bit.ly/3qyDSgp. The channel brings various genres of interest under one roof. #JanoDuniya #JanoTazaKhabar #JanoSach #JanoAbhiKaSach #JanoBadiKhabar #KhabarBhiBharosaBhi #JanoDuniyaHindiNews #JanoDuniyaWebTV